What is the simple definition of technology

 Technology 

आज हमारा देश भारत टेक्नोलॉजी के मामले में आगे बढ़ता ही जा रहा है। पहले जहां हमें हर elctronic सामान या और कोई समान के लिए विदेशों पर निर्भर रहना पड़ता था। वहीं अब धीरे धीरे भारत में make in india के तर्ज पर कई सारे वस्तु, mobile आदि को manifacture कराया जा रहा हैं।

       भारत technolgy के मामले मे अपना ग्राफ तेज़ी से आगे बढ़ा रहा है। पर कोरोना महामारी ने तेजी से बढ़ रहे ग्राफ को धीमा कर दिया है। जो अब धीरे धीरे स्पीड पकड़ रही हैं। 2022 में अनुमान लगाया जा रहा है कि भारत अपना technology व्यय 8.7% तक बढ़ा सकता है।

       आज हमारा देश भारत टेक्नोलॉजी  में जापान, ब्रिटेन , अमेरिका के बाद 4 नंबर पर है। आज technolgy ने  दूर बैठें
लोगों को एक करने का काम किया है। आज technolgy है तो हमारा जीवन  काफी सरल है। घर बैठे देश दूनिया की सारी खबरों को  वह सारी चीजों को हम पलक झपकते ही जान सकते हैं।

TECHNOLOGY के लाभ 

औद्योगिक उत्पादन में बढ़ोतरी  : यह technolgy का ही देन है।  टेक्नोलॉजी ने कई ऐसे मशीनें बनाई , सॉफ्टवेयर बनया ,उपकरण बनाया जिससे माल बनाने की प्रक्रिया में तेज़ी  आ गई। और इस तरह औद्योगिक उत्पादन में बढ़ोतरी हो गई।

खाद उत्पादन में वृद्धि: नए तकनीकों की मदद से कृषि के क्षेत्र में कई ऐसे उपकरण बनाए गए हैं । जिससे सिंचाई व्यवस्था और खेती में सुधार हुआ, जिससे खाद्य उत्पादन में वृद्धि हुई है।

कृषि की स्थिति में सुधार: 
Telchnology ने कृषि के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। जिससे किसानों को उन्नत तकनीक का प्रयोग करने का मौक़ा मिला। और इस तरह उनके फसलों के पैदावार में काफी बढ़ोतरी हुई।।

 
         Technology ने आज मानव जीवन को काफी सुखी  बना दिया है। आज लोग technology के कारण ही अपने जीवन स्तर में सुधार करके  समाज में खुद को पेश कर रहे हैं।

मनोरंजन के क्षेत्र में योगदान: टेक्नोलॉजी के माध्यम से आज मनोरंजन जगत को एक नई पहचान मिल गई है। आज हम टीवी में प्रोग्राम देख सकते हैं, म्यूजिक सुन सकते हैं और वीडियो देख सकते हैं।
   
Technolgy जहां मानव जीवन को लाभ देती है तो वह  मानव जीवन को नुकसान पहुंचाने का भी कार्य करती है, जो निम्न है।


प्रदूषण का स्तर बढ़ा:
टेक्नोलॉजी से औद्योगिक विकास को बढ़ावा मिला है, तो वहीं दूसरी तरफ उद्योगों से निकलने वाली दूषित गैसें पर्यावरण के संतुलन को बुरी तरह प बिगाड़ रही हैं और प्रदूषण को बढ़ावा दे रही हैं।

ग्लोबल वार्मिंग एक बड़ी समस्या :
विज्ञान और टेक्नोलॉजी की मदद्से बनाए गए तमाम आधुनिक संसाधन जैसे एसी, वाहनों आदि के इस्तेमाल और फैक्ट्रियों से निकलने वाला जहरीला धुआं से पर्यावरण के संतुलन को बिगाड़़ रहा है, जिससे धरती का तापमान बढ़ रहा है, और ग्लोबल वार्मिंग की समस्या पैदा हो रही है।

समय की बर्बादी:
आज के युवा पीढ़ी अपना सारा समय  कंप्यूटर, इंटरनेट, मोबाइल, टीवी आदि पर गुजार देता हैं। जो हमारे युवा पीढी के लिए काफी खतरनाक है।

टेक्नोलॉजी मनुष्य को आलसी बनाता जा रहा है।
टेक्नोलॉजी के माध्यम से अब घर बैठे-बैठे ही दुनिया की सभी चीजों को इंटरनेट एवं तमाम आधुनिक उपकरण के माध्यम से देखा जा सकता है । जिससे मनुष्य में आलसीपन बढ़ रहा है।

क्राइम में बढ़ोतरी:
टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल लोग गलत तरीके से भी कर रहे हैं, इंटरनेट के माध्यम से कई गलत अफवाह फैलाकर संप्रदायिक भावनाओ को ठेस पहुंचाते है। और दंगा भड़काते है।

बढ़ती टेक्नोलॉजी का स्वास्थ्य पर प्रभाव:
आज का मनुष्य टेक्नोलॉजी का इतना आदि हो चुका है कि, घंटों मोबाइल फोन पर बातें करता है, कंप्यूटर, टीवी आदि पर गेम खेलता है, जिससे उसकी आंखों पर तो बुरा असर पड़ता है साथ ही कई तरह की बीमारियों का भी शिकार हो रहा है।

निष्कर्ष:  टेक्नोलॉजी मानव के लिए अति आवश्यक है । बस हम इतना ध्यान रखें कि हम किसी भी वस्तु का इतना भी आदि न हो जाए की वो हम पर हावी हो जाए।

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने